Pedagogy of Hindi Language Model Paper

विद्यादूत लगातार विद्यार्थियों के लिए बीएड प्रथम वर्ष ( B.Ed – Bachelor of Education) के प्रश्नपत्रों के मॉडल पेपर प्रस्तुत कर रहा है, जो विद्यार्थियों में अत्यधिक लोकप्रिय हो रहे है | इसी कड़ी में आज विद्यादूत के विषय-विशेषज्ञों द्वारा तैयार Pedagogy of Hindi Language Model Paper (B.Ed First Year Model Paper) प्रस्तुत किया जा रहा है | छत्रपति शाहूजी महाराज विश्वविद्यालय (CSJMU Kanpur) के बीएड द्विवर्षीय प्रोग्राम (B.Ed Two Year Programme) अंतर्गत बीएड प्रथम वर्ष (B.Ed First Year Examination Model Paper) के तीन अनिवार्य प्रश्नपत्रों (B.Ed Perspective Paper) का मॉडल पेपर (B.Ed Examination Model Paper) पूर्व में ही प्रस्तुत किया जा चुका है, जिनका शीर्षक है – शिक्षा के दार्शनिक परिप्रेक्ष्य, शिक्षा के समाजशास्त्रीय परिप्रेक्ष्य, शिक्षा के मनोवैज्ञानिक परिप्रेक्ष्य, जिसे विद्यार्थियों ने बहुत पसंद किया था | इसके अलावा Pedagogy of Hindi Language Biological Science Model Paper, Pedagogy of Physical Science Model Paper, Pedagogy of Mathematics Model Paper, Pedagogy of Social Science Model Paper भी विद्यादूत में प्रस्तुत किये जा चुके है |

Pedagogy of Hindi Language Paper छत्रपति शाहूजी महाराज विश्वविद्यालय कानपुर (Chhatrapati) Shahu Ji Maharaj University Kanpur) के द्विवर्षीय बीएड पाठ्यक्रम (Bachelor Of Education Two Year Programme) के ऑप्शनल पेपर 4 और 5 इ (B.Ed Optional Paper 4 and 5 E) पर आधारित है | प्रस्तुत बीएड एग्जाम मॉडल पेपर के तीन खण्ड है, जिसमे कुल 9 प्रश्न है, आपको निर्देश के अनुसार केवल 5 प्रश्नों के उत्तर लिखने है |

Pedagogy of Hindi Language Model Paper

B.Ed. (Part 1) (New Course) Examination Model Paper

(Optional) : Paper 4 and 5 (E)

नोट – सभी खण्डों से निर्देशानुसार प्रश्नों के उत्तर दीजिये |

निर्देश : अभ्यर्थी प्रश्नों के उत्तर क्रमानुसार लिखें | यदि किसी प्रश्न के कई भाग हों तो उनके उत्तर एक ही तारतम्य में लिखे जायें |

खण्ड – अ : लघु उत्तरीय प्रश्न

नोट : सभी प्रश्न अनिवार्य हैं | प्रत्येक प्रश्न 4 अंक का है |

1. (a) पाठ्येत्तर क्रियाएं कौन-कौन सी हैं ?

(b) हिन्दी भाषा में उपयोग किये जाने वाले शिक्षण सूत्रों पर प्रकाश डालें |

(c) हिन्दी भाषा का अन्य विषयों से क्या सहसम्बन्ध है ?

(d) हिन्दी में शिक्षण सूत्रों का क्या महत्व है ?

(e) हिन्दी शिक्षण में पाठ योजना की आवश्यकता एवं महत्व बताएं |

(f) हिन्दी शिक्षण में उच्चारण के महत्व पर प्रकाश डालें |

(g) हिन्दी शिक्षण में श्रव्य-दृश्य उपकरणों के महत्व को स्पष्ट करें |

(h) भाषा प्रयोगशाला क्या है ? भाषा प्रयोगशाला में प्रयुक्त उपकरणों का विवरण दें |

खण्ड – ब : दीर्घ उत्तरीय प्रश्न

नोट : किन्ही दो प्रश्नों के उत्तर दीजिये | प्रत्येक प्रश्न 12 अंकों का है |

2. हिन्दी भाषा की प्रकृति, महत्व व विशेषताएं बताएं |

3. मूल्याकन से क्या समझते है ? हिन्दी भाषा के मूल्याकन में निबंधात्मक व वस्तुनिष्ठ प्रश्नों के गुण-दोषों को बताएं |

4. सूक्ष्म-शिक्षण क्या हैं ? यह परम्परागत शिक्षण से किस प्रकार भिन्न है ? सूक्ष्म-शिक्षण के किन्ही दो कौशलों का वर्णन करें |  

5. हिन्दी शिक्षण के प्रमुख उद्देश्यों का वर्णन करें | हिन्दी शिक्षक के लिए इन शिक्षण उद्देश्यों का ज्ञान होना क्यों आवश्यक है ?

खण्ड – स : दीर्घ उत्तरीय प्रश्न

नोट – किन्ही दो प्रश्नों के उत्तर दीजिए | प्रत्येक प्रश्न 12 अंकों का है |

6. हिन्दी भाषा शिक्षण के सिद्धातों की विवेचना करें |

7. शिक्षण युक्तियाँ क्या है ? हिन्दी शिक्षण में कौन-कौन सी प्रमुख शिक्षण युक्तियों का प्रयोग किया जाता है ? सउदाहरण स्पष्ट करें |

8. पाठ्यक्रम से आप क्या समझते है | हिन्दी भाषा में पाठ्यक्रम निर्माण के प्रमुख सिद्धातों की विवेचना करें |

9. हिन्दी भाषा शिक्षण में पाठ्य-पुस्तकों का क्या महत्व हैं ? इसके निर्माण में कौन-कौन सी सावधानियां बरतनी चाहिए ?  

प्रिय विद्यार्थियों आपको यह मॉडल पेपर कैसा लगा, हमे इस बारे में कमेन्ट कर सकते है, अगर आपको किसी प्रश्न से सम्बन्धित कोई समस्या है तो आप निसंकोच हमे कमेन्ट कर सकते है |

Best Of Luck

ये भी देखें –