What is Google Bolo App : गूगल बोलो एप से सीखें फ्री में इंग्लिश हिन्दी

What is Google Bolo App

क्या है गूगल बोलो एप (What is Google Bolo App) : “बोलो” एप (“Bolo” App) दिग्गज तकनीकी कंपनी गूगल (Goggle) द्वारा हाल ही में लांच किया गया एक शैक्षिक एप (Educational App) है, जो बच्चों को अंग्रेजी और हिन्दी भाषा को अच्छी तरह से पढ़ने, बोलने व समझने में मदद करेगा | गूगल ने इस महत्वपूर्ण बोलो एप (Bolo App) को सबसे पहले भारत में लांच किया है | आज विद्यादूत के इस आर्टिकल में जानेंगें कि What is Google Bolo App ? (गूगल का बोलो एप क्या है ?)

What is Google Bolo App ? गूगल ने विश्व की सबसे बड़ी सर्च इंजन कम्पनी का दर्जा हासिल कर रखा है | अब उसने शिक्षा के क्षेत्र में भी अपना नाम दर्ज करा दिया है | जाहिर है कि अगर गूगल ने कोई एप बनाया है तो वह अनेको खूबियों से भरा हुआ ही होगा |

What is Google Bolo App

bolo app kisne launch kiya गूगल ने बोलो एप को लांच करने से पहले उत्तर प्रदेश के 200 गांवों में इसका परीक्षण किया था | जिसका परिणाम अत्यधिक संतोषजनक रहा |

must read – कैंसर का खतरा कैसे कम करती है एक कप कॉफ़ी, ताजा शोध

बोलो एप की सफलता का अंदाजा इसी से ही लगाया जा सकता है कि मात्र तीन महीनों में ही 64% बच्चों की पढ़ने की क्षमता में उत्साहजनक सुधार देखने को मिला था |

ऑफलाइन कार्य करेगा बोलो एप : What is Google Bolo App

गूगल के बोलो एप (google bolo app) की एक बहुत बड़ी विशेषता यह है कि ये ऑफलाइन कार्य करेगा | इसका मतलब यह है कि एक बार बोलो एप (Bolo App) को डाउनलोड करने के बाद ये बिना इंटरनेट के ही बच्चों को इंग्लिश और हिन्दी सिखाएगा | बोलो ऐप को पूरी तरह से ऑफलाइन काम करने के उद्देश्य से ही डिज़ाइन किया गया है |

Bolo – speech based reading-tutor app

बोलो एप गूगल की स्पीच रिकॉग्निशन और टेक्स्ट-टू-स्पीच टेक्नोलॉजी (google’s speech recognition and text-to-speech technology) का प्रयोग करता है | इस प्रकार ‘Bolo’ एक speech based reading tutor app है, जो बच्चों को हिन्दी और अंग्रेजी भाषा को शुद्ध रूप में पढ़ने, उच्चारण करने व समझने में कुशलता प्रदान करता है |

must read – ऐसे चेक करें अपना पीएफ बैलेंस – 4 आसान तरीकें

दिया – एनिमेटेड डिजिटल असिस्टेंट (Diya – Animated Digital Assistant)

गूगल इंडिया के प्रोडक्ट मैनेजर नितिन कश्यप ने बताया कि बोलो एप में एक एनिमेटेड डिजिटल असिस्टेंट दिया (Diya) है | buddy “Diya” बच्चों को तेज आवाज में स्टोरी पढ़ने के लिए प्रोत्साहित करेगी, साथ ही ‘दिया’ बच्चों को किसी शब्द का उच्चारण करने में परेशानी आने पर मदद भी करेगी |

buddy “diya” की एक खासियत यह भी है कि यह पूरी स्टोरी सही-सही पढ़ने पर बच्चों की तारीफ कर उनका मनोबल भी बढ़ाती है |

बोलो – कहानियों द्वारा सिखाता है

Education App Bolo बच्चों को रोचक कहानियों (stories) द्वारा हिन्दी और इंग्लिश भाषा सीखने में मदद करता है | बोलो एप में हिन्दी की 50 कहानियां (stories) और अंग्रेजी की 40 कहानियां (stories) है |

इन कहानियों को बच्चा जोर-जोर से पढ़कर शुद्ध उच्चारण करना सीखता है | बोलो एप प्राथमिक विद्यालयों के विद्यार्थियों (primary grade students) के लिए designed किया गया है |

फ्री में करे डाउनलोड बोलो ऐप (bolo app download Free)

Google Bolo App को डाउनलोड करने के लिए आपको कोई भी रकम खर्च नही करनी पड़ेगी | google bolo app बिलकुल नि:शुल्क (free) है | आपको केवल एक बार इसे इंटरनेट के द्वारा डाउनलोड करना होगा |

must read – इन 24 जाली विश्वविद्यालयों से रहें सावधान, यूजीसी ने किया अलर्ट

बोलो एप 50 एमबी (50 MB) का है | बोलो एप की एक और खासियत यह भी है कि यह bolo app पूरी तरह से विज्ञापन-मुक्त है (completely ads free) है |

गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध बोलो एप (bolo app available on play store)

यूजर Google Bolo App को गूगल प्ले स्टोर (google play store) से मुफ्त में डाउनलोड कर सकते है | लेकिन इसमे केवल एक ही प्रोब्लम यह है कि बोलो एप मात्र एंड्राइड 4.4 (किटकैट) [Android 4.4 (Kit Kat)] और इससे ऊपर के वर्जन वाले डिवाइस (device) पर ही चल सकता है |

गूगल ‘बोलो’ एप की मुख्य विशेषताएं : What is Google Bolo App

1 – गूगल के बोलो एप में बड़ी मात्रा में कहानियों का संग्रह है | इसमे कुल 50 कहानियाँ (50 Stories) हिन्दी में और 40 कहानियाँ (Stories) अंग्रेजी (English) में है |

2 – बोलो एप की डिजिटल असिस्टेंट ‘दिया’ न केवल बच्चों को कहानी पढ़कर बताती है बल्कि वह इंग्लिश टेक्स्ट को हिन्दी में explain करके समझती भी है |

3 – बोलो एप में बच्चों के मनोरंजन को भी ध्यान में रखा गया है, जिससे उनमे बोलो एप के प्रति लगाव बना रहे | “बोलो” एप में बच्चों के लिए शब्द-खेल (word games) भी मौजूद है, जिससे खेल-खेल में बच्चें सीखेंगे |

must read – भारत में बेरोजगारी और उसके प्रकार

4 – गूगल का बोलो एप एक home-tutor की भांति बच्चों को हिन्दी और इंग्लिश भाषा सीखने में step-by-step मदद करता है | इस एप में बंगाली आदि अन्य भारतीय भाषाओँ को भी जल्द शामिल करने का विचार किया जा रहा है |

5 – बोलो एप एक बार डाउनलोड करने के बाद ऑफलाइन कार्य करता है | इसके आलावा यह एप पूरी तरह से विज्ञापन-विहीन (ads free) है | इसका फायदा यह है कि सीखने से बच्चों का ध्यान नही भटकेगा |

6 – गूगल ने बच्चों की सेफ्टी (safety) और सिक्योरिटी (security) को ध्यान में रखकर बोलो एप को डिज़ाइन किया है | इसमे बच्चों की सभी व्यक्तिगत सूचनाएं (personal information) हमेशा डिवाइस में ही रहती है | इस एप में लॉग इन करने लिए यूजर को ईमेल आईडी या उम्र जैसी सूचनायें भी नही देनी होती है |

7 – इसकी एक बड़ी खासियत यह भी है कि एक ही बोलो एप को कई यूजर इस्तेमाल कर सकते है, उन्हें अलग-अलग एप की जरूरत नही है | सभी यूजर अलग-अलग अपना progress भी देख सकते है |